चीन में आया एक और नया वायरस इस वायरस से हुई एक शख्स की मौत-

0
370

चीन से पिछले वर्ष एक खतरनाक महामारी कोरोनावायरस ने जन्म लिया था और अब यह है पूरी दुनिया में अपना कहर बरपा रही है, इस महामारी से लोग उभरना ही शुरू हुए थे कि एक और वायरस चीन में पनप रहा है, इस वायरस से एक व्यक्ति की मौत भी हो चुकी है.

Monkey Virus
दरअसल,,,चीन में मंकी बी वायरस (monkey b) नाम का वायरस फैल रहा है एक रिपोर्ट के मुताबिक इस वायरस से एक पशु चिकित्सक की मौत हो गई है जिसकी उम्र 53 वर्ष थी. बताया जा रहा है कि यह डॉक्टर non-human प्राईमेट्स पर रिसर्च कर रहा था और इसी दौरान इस शख्स की तबीयत बिगड़ी और इसे उल्टियां आना शुरू हो गई जब इस शख्स को हॉस्पिटल ले जाया गया तो इलाज के बाद इसकी मृत्यु हो गई, इस शख्स की मृत्यु 27 मई को हुई थी डॉक्टरों ने कड़ी रिसर्च के बाद पता लगाया कि उसकी मृत्यु मंकी भी वायरस नाम के संक्रमण से हुई है. इसमें राहत की बात यह है कि उसके परिवार में कोई इस वायरस से संक्रमित नहीं हुआ है एक रिपोर्ट में बताया गया है कि जिस शख्स की मृत्यु हुई है उसमें कुछ महीनों पहले बंदरों पर एक रिसर्च की थी और उसने बंदरों की चीर फाड़ की थी.

indonesia monkey thief

इसके वायरस के लक्षणों की बात करें तो चीन के अनुसार इस वायरस से जो व्यक्ति संक्रमित होता है उसको बुखार, कपकपाहट, मांसपेशियों में दर्द और थकान आदि महसूस होती है. एक रिपोर्ट के अनुसार, US National Library of Medicine ने वायरस पर एक रिपोर्ट छापी थी. इस रिपोर्ट के मुताबिक़ ये वायरस इंसानों के Central Nervous System पर हमला करता है. ये वायरस डायरेक्ट कन्टैक्ट को बॉडी फ़्लूड्स के संपर्क में आने से फैलता है, इस वायरस के 70%-80% मामलों में मरीज़ की मौत हो जाती है.

Monkeypox

इस वायरस के बारे में एक्सपर्टस की मानें तो यह वायरस Respiratory Droplets से एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में फैलता है, अब देखना होगा कि चीन का यह वायरस कितना कहर मचाता है. इस वायरस की खोज 1958 में की गई थी. चीन में इस शख्स की मौत से हड़कंप मच गया है हालांकि आपको बता दें कि चीन अभी इस पर कुछ कहने से बच रहा है उसने अभी इस बार इसके बारे में कोई भी सूचना नहीं दी है. अब देखना होगा कि चीन इस वायरस के संक्रमण को फैलने से किस तरीके से रोकता है, अगर यह वायरस भी कोरोनावायरस की तरह फैलता है तो यह देश और दुनिया के लिए बेहद खतरनाक साबित हो सकता है.

अब यहां सवाल उठता है कि चीन पर किस हद तक यकीन किया जाए क्योंकि चीन हमेशा ही इन सब बातों को लेकर दुनिया को गुमराह करता रहता है, आपको बता नहीं कुछ समय पहले स्पॉलपॉक्स नाम का एक वायरस आया था, उस के लक्षण इस वायरस से मिलते-जुलते हैं.