शादी के कार्ड पर छपवाई रामविलास पासवान और चिराग पासवान की फोटो

0
141

बिहार की राजनीति अपने आप में बेहद महत्वपूर्ण स्थान रखती है और राष्ट्रीय स्तर पर भी उसका काफी महत्वपूर्ण स्थान है पिछले कुछ दिनों से बिहार की राजनीति में हल-चल मची हुई है. कुछ समय पहले ही बिहार के कद्दावर नेता रामविलास पासवान का निधन हो गया, उसके बाद उनकी पार्टी लोजपा का जिम्मा उनके बेटे चिराग पासवान पर आ गया. लेकिन रामविलास पासवान के निधन के बाद ही उनके चाचा यानि पशुपति पारस ने चिराग पासवान से अध्यक्ष पद छीन लिया और पार्टी को दो भागों में बांट दिया अब चिराग पासवान अपना राजनीतिक वर्चस्व बनाने के लिए पूरे बिहार का दौरा कर रहे हैं और बिहार के अलग-अलग जिलों में जा रहे हैं इसी बीच जमुई से सांसद चिराग पासवान अपने एक समर्थक की शादी में पहुंचे थे जब उन्होंने शादी का कार्ड देखा तो वह हैरान रह गए.

Unique Marriage Invetation Card
दरअसल,, लोजपा समर्थक अनुपम पासवान की शादी में चिराग पहुंचे थे अनुपम ने अपनी शादी के कार्ड पर एक तरफ दिवंगत नेता रामविलास पासवान की तस्वीर लगाई है और दूसरी तरफ चिराग पासवान की तस्वीर लगवाई है और साथ ही चिराग के दिल की बात भी कार्ड पर लिख डाली,इस पर अनुपम पासवान ने लिखवाया “बिहार फर्स्ट बिहारी फर्स्ट” ये नारा अक्सर चिराग पासवान देते हैं. लोजपा पार्टी में पिछले काफी समय से हल-चल मची हुई है चिराग पासवान अपना राजनीतिक वजूद बनाने के लिए मोहम्मदपुर गांव में पहुंचे थे जहां उनके समर्थक अनुपम पासवान की शादी थी चिराग पासवान ने बताया कि उनके पिता से रामविलास पासवान जी ने वादा किया था कि वह उनकी बेटे की शादी में जरूर आएंगे, लेकिन अब उनका निधन हो गया तो इनकी शादी में मैं आया हूं अनुपम काफी समय से लोजपा के समर्थक हैं.

Unique Marriage Invetation Card

चिराग ने कहा अनुपम जैसे कार्यकर्ताओं की जरूरत पार्टी को है आपको बता दें पिछले काफी समय से अनुपम पासवान जनशक्ति पार्टी के सक्रिय कार्यकर्ता के रूप में कार्य कर रहे हैं चिराग पासवान ने इस दौरान अनुपम को अपना भाई बताया और कहा कि अनुपम पार्टी के लिए अपना सब कुछ त्याग सकता है बता दें कि, रामविलास पासवान बिहार विधानसभा चुनाव से पहले गुजर गए थे, जिसके बाद चिराग पासवान ने ही पार्टी को संभाला और चुनाव लड़े लेकिन उनकी पार्टी की इस चुनाव में करारी हार हुई.

chirag paswan

एक जबरदस्त झटका चिराग पासवान को जब लगा जब हाल ही में उनके चाचा यानी पशुपति कुमार पारस ने पार्टी से अलग होने का फैसला लिया और पार्टी को दो हिस्सों में विभाजित कर दिया. अब लगातार चिराग पासवान अपनी राजनीतिक स्थिति को सुधारने में लगे हुए हैं वही अनुपम पासवान ने पार्टी से अलग हुए 5 विधायकों पर जमकर जमकर निशाना साधा, अनुपम ने कहा कि 5 की जगह किसी समय लोजपा के 50 सांसद होंगे अनुपम ने कहा कि जिन लोगों ने पार्टियों और जनता को धोखा दिया है उन पर सरकार आने पर कार्यवाही की जाएगी क्योंकि बिहार की जनता समझ चुकी है कि कौन बिहार के हित में सोच रहा है और क्या कौन बिहार के हित में अब हर कोई बिहार में चिराग पासवान को मुख्यमंत्री देखना चाहता है और जनता भी उन्हीं के साथ है.

आपको बता दें स्टेज पर अनुपम कार्ड लेकर बैठे हुए नजर आए और साथ ही आपको बताते हैं कि स्टेज पर भीमराव अंबेडकर और रामविलास पासवान की तस्वीर लगी थी और लड़की वालों ने भी स्टेज पर भीमराव अंबेडकर और गौतम बुद्ध की तस्वीर लगवाई थी।