सीएम ममता ने सोनिया गांधी, शरद पवार, उद्धव ठाकरे से की ये डिमांड

0
335

आपको बता दें कल नंदीग्राम में मतदान है। जहां से टीएमसी प्रमुख और मुख्यमंत्री ममता बनर्जी चुनाव लड़ रही हैं। भाजपा ने शुभेंदु अधिकारी को प्रत्याशी बनाया है। ममता ने पत्र में कहा कि विपक्ष को एकजुट होना होगा। भाजपा के खिलाफ लड़ाई लड़ने का आह्वान किया।

ममता बनर्जी ने सोनिया गांधी, शरद पवार, एमके स्टालिन, तेजस्वी यादव, उद्धव ठाकरे, अरविंद केजरीवाल, नवीन पटनायक का हवाला देते हुए नेताओं को पत्र लिखा, “दृढ़ता से मानना ​​है कि लोकतंत्र और संविधान पर भाजपा के हमलों के खिलाफ एकजुट और प्रभावी संघर्ष का समय आ गया है।”

संघवाद पर भाजपा सरकार द्वारा ‘‘हमलों’’ पर प्रकाश डाला गया

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ने पत्र में कहा कि गैर-भाजपा दलों द्वारा शासित राज्यों में केन्द्र राज्यपाल के कार्यालय का दुरुपयोग कर निर्वाचित सरकारों के लिए समस्याएं पैदा कर रहा है। ममता बनर्जी ने गैर-भाजपा नेताओं को पत्र लिखे, इनमें लोकतंत्र और संवैधानिक संघवाद पर भाजपा सरकार द्वारा ‘‘हमलों’’ पर प्रकाश डाला गया है।

एनसीटी विधेयक का पारित होना एक ‘‘गंभीर विषय’’ है, भाजपा सरकार ने लोकतांत्रिक रूप से निर्वाचित सरकार की सभी शक्तियों को छीन लिया है। एनसीटी विधेयक का जिक्र करते हुए पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा कि उपराज्यपाल को दिल्ली का अघोषित वायसराय बना दिया गया, जो गृह मंत्री और प्रधानमंत्री के लिए एक प्रतिनिधि (प्रॉक्सी) के रूप में काम कर रहे हैं।

मतदाताओं को धमकाने के लिए दूसरे राज्यों से कथित गुंडे आए हैं

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने आरोप लगाया कि नंदीग्राम में परेशानी खड़ी करने और मतदाताओं को धमकाने के लिए दूसरे राज्यों से कथित गुंडे आए हैं। उन्होंने बुधवार को निर्वाचन आयोग से इस मामले में कार्रवाई करने का आह्वान किया।

अगले दौर का चुनाव प्रचार करने से पहले संवाददाताओं से बातचीत में ममता बनर्जी ने आरोप लगाया कि पूर्वी मिदनापुर जिले के विधानसभा क्षेत्र के कई गांवों में स्थानीय लोगों को भगाया जा रहा है। तृणमूल कांग्रेस अध्यक्ष बनर्जी ने आरोप लगाते हुए कहा, ‘‘दूसरे राज्यों के गुंडे मतदाताओं को धमकाने के लिए नंदीग्राम में दाखिल हो गए हैं।

बलरामपुर गांव और अन्य इलाके के ग्रामीणों को भगाया जा रहा है। वे मतदाताओं को धमका रहे हैं।’’ उन्होंने कहा, ‘‘हम निर्वाचन आयोग से शिकायत कर रहे हैं। निर्वाचन आयोग को इसपर संज्ञान लेना चाहिए और कार्रवाई करनी चाहिए।’’

भाजपा नेता जयप्रकाश मजूमदार ने कहा कि निर्वाचन आयोग को इन आरोपों को देखना है लेकिन लगता है कि मुख्यमंत्री को हार का आभास हो गया है, इसलिए पहले ही वह ऐसे दावे कर रही हैं। उल्लेखनीय है कि सभी की नजरे नंदीग्राम पर है जहां पर बृहस्पतिवार को मतदान होगा। यहां पर मुख्यमंत्री ममता बनर्जी का मुकाबला उनके कभी करीबी रहे और अब भाजपा के टिकट पर लड़ रहे शुभेंदु अधिकारी से है।