इन आसान तरीकों की मदद से करें नोटों की पहचान, कभी नहीं होगें जाली नोट का शिकार

0
460

आए दिन हम जाली नोटों को लेकर अखबारों और न्यूज चैनलों पर खबर देखते हैं. सरकार के तमाम बड़े-बड़े वादों के बावजूद देश में जाली नोटों का खूब व्यापार चल रहा है. नोटबंदी के बाद यह देखने को मिला है कि जाली नोटों की हेरा फेरी में बढ़ोतरी हुई है. आरबीआई (RBI) भी समय-समय पर जनता को नोटों के मामले में सतर्कता बरतने की हिदायत देती रहती है. पिछले महीने ही आरबीआई ने कहा था कि देश में जाली नोटों का चलन फिर से बढ़ गया है. अगर आप किसी के साथ लेन-देन कर रहे हैं तो बेहद सावधानी बरतने की जरूरत है.

ऐसे करें नकली नोट की पहचान

अगर आपको लगता है कि कहिं आपकी जेब में पड़ा हुआ नोट नकली या जाली तो नहीं है. आज के इस पोस्ट में हम आपको नकली नोटों को पहचानने की आसान ट्रिक बताने वाले हैं. बता दें, पिछले महीने की आरबीआई ने अपनी वार्षिक रिपोर्ट में बताया था. वर्ष 2020 – 21 में सबसे ज्यादा जाली नोट आरबीआई(RBI) के सामने आए हैं. आरबीआई के अनुसार इन 2 सालों में कुल 5.45 करोड़ की रकम बरामद की गई है. बता दे, आरबीआई की वितीय रिपोर्ट के अनुसार इन जाली नोटों में सबसे ज्यादा ₹100 के नोट पकड़े गए हैं. आरबीआई का मानना है की सौ का नोट हमारे लेन-देन में सबसे ज्यादा प्रयोग होता है.

पहला तरीका

अगर आप भी किसी ऐसे जाली नोट के चक्कर में फंस चुके हैं. तो आप भी जान लीजिए नोटों को पहचानने की यह आसान तरीके. ₹100 के नोट को पहचानने का आसान तरीका है कि असली नोट पर देवनागरी भाषा में 100 लिखा होता है. वही 100 के नोट पर आरबीआई का एक तार होता है. अगर आप उसे तिरछा करके देखेंगे तो वह अचानक ही नीला हो जाता है, अगर तार नीला नहीं होता है तो इसका मतलब नोट जाली हो सकता है. वहीं नोट को किसी लाइट के सामने रखने पर यहां 100 लिखा हुआ दिखता है.

दूसरा तरीका

500 के नोट को आंख के सामने 45 डिग्री के एंगल पर नोट रखेंगे तो यहां 500 लिखा दिखेगा. यहां पर देवनागरी में 500 लिखा होता है. पुराने नोट से तुलना करें तो महात्मा गांधी की तस्वीर का ओरिएंटेशन और पोजिशन थोड़ा अलग है. नोट को हल्का मोड़ेंगे तो सिक्योरिटी थ्रीड का कलर हरा से नीला हो जाता है. पुराने नोट की तुलना में गवर्नर के सिग्नेचर, गारंटी क्लॉज, प्रॉमिस क्लॉज और RBI का लोगो दाहिनी तरफ शिफ्ट हो गया है. यहां महात्मा गांधी की तस्वीर है और इलेक्ट्रोटाइप वाटरमार्क भी है

2020 -21 की वित्तिय रिपोर्ट

बता दें, रिपोर्ट के अनुसार, वित्तीय वर्ष 2020-21 में कुल 2,08,625 नकली नोट पकड़े गए हैं. इनमें सबसे अधिक 100 रुपये के नोट हैं. कुल 11073600 रुपये मूल्‍य के 100 के नोट पकड़े गए हैं. आपकी जानकारी के लिए बता दें, भारतीय रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया 10, 20, 50,100 के नोट को मध्यम कैटेगरी की लिस्ट में रखता है जिसे देश का लगभग हर नागरिक यूज करता है. इसलिए बैंक के द्वारा इन छोटे नोटों पर फ्रंट साइड में सिल्वर रंग की मशीन रीडेबल सुरक्षा धागा लगाया जाता है. बताया जाता है कि यह धागा प्रकाश में रखने पर ऑटोमेटिक पीला दिखाई देने लगता है. बता दें यह धागा लाइट के विपरीत परिस्थितियों में रखने पर यह एक सीधी रेखा में दिखाई देता है.