Home Blog

प्रेग्नेंट महिला का बेबी बंप देख हैरान रह गए लोग, फिर बाद में पता चली सच्चाई

0

दुनिया की हर महिला का सपना होता है कि वह एक दिन मां बनने का सुख प्राप्त करें, शादी के बाद ज्यादातर महिलाओं की यही की इच्छा होती है कि वह जल्दी से जल्दी मां बने और जब कोई महिला प्रेग्नेंट होती है तो वह अपनी और अपनी बच्चे की काफी केयर करती है. जब कोई महिला प्रेग्नेंट होती है तो देखा जाता है कि उसका धीरे-धीरे बेबी बंप निकलने लगता है या तो महिला का बेबी बंप नीचे की तरफ निकलता है या फिर ऊपर की तरफ निकलता है.

लेकिन इस पोस्ट में हम आपको एक ऐसी महिला से मिलाने जा रहे हैं जिसका बेबी बंप देखकर सभी लोग हैरान रह गए जी हां, मिशेला मेयर-मोर्सी के साथ ऐसी ही घटना घटित हुई है पिछले दिनों जब इन्होंने 3 बच्चों का जन्म दिया तो उनका बेबी बंप देखकर सभी हैरान थे इनका बेबी बंप सामान्य बेबी बंप से काफी बड़ा और सीधा ही निकल रहा था इसे देखकर डॉक्टर भी हैरान रह गए,

मिशेला मेयर-मोर्सी प्रेग्नेंट थी तो तब सभी को लग रहा था कि उनको कोई बीमारी है. लेकिन जब यह डिलीवरी के लिए हॉस्पिटल पहुंची तो वहां पर इन्होंने एक के बाद एक तीन बच्चों को जन्म दिया जिसके बाद खुशी की लहर दौड़ गई, आपको बता दें, यह महिला डेनमार्क की रहने वाली है और पहले से ही 2 बच्चों की मां है. अब इस महिला का परिवार 7 सदस्यों का हो चुका है.

और यह महिला 5 बच्चों की मां बन चुकी है. आपकी जानकारी के लिए बता दें, मिशेला 35 हफ्तों तक गर्भवती रही और उसके बाद उन्होंने तीन बच्चों को जन्म दे दिया, इस बात की जानकारी महिला ने खुद टिक टॉक वीडियो बनाकर शेयर की थी उन्होंने बताया कि अब वह बेहद खुश हैं और अपने बच्चों की केयर कर रही हैं।

बर्खास्त दरोगा ने के दिखाया अपना भौकाल, शादी में बेटी को दिए डेढ़ करोड़ दहेज, उड़ायी कोरोना नियमों की धज्जियां-

0

भारत में कोरोना का प्रकोप जैसे जैसे बढ रहा है वैसे वैसे ही सरकारें तमाम गाइडलाइंस बना रहे हैं. लेकिन राजस्थान के भरतपुर से एक ऐसा मामला सामने आया है जहां पर एक बर्खास्त दरोगा ने अपनी बेटी की शादी में सभी कोरोनावायरस के नियमों को ताक पर रखकर बेटी की शादी की थी अब यह बर्खास्त दरोगा की बेटी की शादी चर्चा का विषय बन गई है.

इस बर्खास्त दरोगा ने अपनी बेटी की शादी में ना सिर्फ कोरोनावायरस नियमों का उल्लंघन किया बल्कि ज्यादा से ज्यादा लोग भी बुलाए गए, रिपोर्ट्स के मुताबिक इस शादी में कुल 800 लोग शामिल हुए थे और इस बर्खास्त दरोगा ने अपनी बेटी को दहेज के तौर पर सवा करोड़ कैश दिया जिसका ऐलान एक सख्स ने सभी मेहमानों के सामने किया,

आपको बता दें, भारतपुर जिले के सच्चेन में यह मामला 4 दिन पहले हुआ है. यहां बर्खास्त दरोगा अर्जुन सिंह की बेटी की शादी थी अर्जुन सिंह (Arjun Singh) ने 2 दिन पहले हुई अपनी बेटी की शादी में बेटी दिव्या को एक करोड़ 15 लाख ₹101 दिए थे थी जो अब चर्चा का विषय बन चुके हैं. इतना ही नहीं इस महंगी शादी में बर्खास्त दरोगा के पुलिस महकमे से भी लोग पहुंचे थे इसके साथ ही इसमें राजस्थान सरकार में विधायक भी पहुंचे.

रिपोर्ट्स के मुताबिक इस शादी में शिरकत करने जोगिंदर सिंह अवाना, पूर्व विधायक घनश्याम मेहर साहित्य और भी कांग्रेस के नेता इस शादी में पहुंचे थे. अब इस शादी का वीडियो सोशल मीडिया पर जबरदस्त वायरल हो रहा है और लोग इस दरोगा के खिलाफ सख्त से सख्त कार्यवाही करने की मांग कर रहे हैं. वीडियो 23 जनवरी का बताया जा रहा है. वीडियो में देखा जा सकता है 500-500 के नोट की गड्डी दिखाई दे रही है. और इस वीडियो में एक शख्स दहेज में मिले पैसों के बारे में बात करता दिख रहा है. राजस्थान के कोरोनावायरस के मुताबिक शादी समारोह में सिर्फ 100 लोग ही शामिल हो सकते हैं लेकिन इस बर्खास्त दरोगा की शादी में 800 लोग शामिल हुए उन पर अब कार्यवाही ही की उम्मीद जताई जा रही है. देखना होगा कि राजस्थान सरकार इस बर्खास्त दरोगा पर कोई कार्यवाही करती है या नहीं।

दुनिया का सबसे ज्यादा उम्र वाला जोनाथन अब हो गया है 190 साल का जानिए क्या है पूरी कहानी

0

इस दुनिया में कई तरह के जीव और जानवर पाए जाते हैं. जीव की प्रजातियों में से एक मशहूर प्रजाति है जिसे हम इंसान के रूप में जानते हैं. हर जीव जंतु की जीने की एक समय सीमा होती है जैसे इंसान औसतन 60-80 साल तक जीता है. वहीँ कई जीव जंतु ऐसे होते हैं जो कुछ कम या कुछ ज्यादा जीते हैं.

दुनिया में कई ऐसे जीव हैं जो महज कुछ साल ही जीते हैं तो वहीं कुछ ऐसे भी हैं जो कई साल जीते हैं. आज हम आपको एक ऐसे जीव के बारे में बताने जा रहे हैं जिसका बहुत लम्बा होता है यानी वो जीव 150-200 साल तक जीवित रहता है. तो अब आप सोच रहे होंगे आखिर कौन सा है वो जीव तो आइये बताते हैं. तो वो जानवर कोई और नहीं कछुआ है जी हा सही सुना वही कछुआ जो धीरे धीरे खरगोश से रेस भी जीत गया था और अब जिंदगी जीने की रेस में भी बहुत आगे है.

कछुआ एक ऐसा जानवर बन गया है जो इस दुनिया पर पाए जाने वाले जीव जन्तुओ में सब्र अधिक जीवन जीने वाला आपको बता दें एक जोनाथन नाम के एक कछुए ने सबसे ज्यादा जीने का रिकॉर्ड कायम कर दिया है जोनथन पिछले साल ही 190 साल का हो गया है और उसने तूई मालीला नामक एक कछुए के रिकार्ड तोड़ दिया है. तूई मालीला ने 188 साल तक जीने का रिकार्ड बनाया था. जोनाथन का जन्म साल 1932 में हुआ था और आज वो पूरे 190 साल का हो चुका है. इसको खाने में कई तरह हि सब्जियाँ और फल पसंद हैं.

भयानक आर्थिक मंदी का सामना कर रहा है श्रीलंका, चाय पानी तक को तरस रहें हैं नागरिक

0

किसी भी देश की आर्थिक हालत में फेर बदल होता रहता है कभी देश की आर्थिक स्तिथी अच्छी तो कभी खराब हो जाती है ये तो चलता ही रहता है. लेकिन किसी की आर्थिक हातल इतनी खराब हो जाए कि वहां के नागरिकों को खाने पीने तक के लाले पड़ जाए ऐसा ही भारत के करीबी मुल्क श्रीलंका में हुआ है. श्रीलंका में आर्थिक हालत इतनी खराब हो चुकी है कि वहां के नागरिकों के खाने पीने तक के लाले पैड गए हैं. चाय पीने के लिए लोगों को दूध नहीं मिल रहा है और मिल भी रहा है तो उसकी कीमत इतनी है कि कोई चाय बनाने के लिए ज़िन्दगी भर ना सोचे.

हालत इतनी खराब है कि वहां लोग रोज़ के खाने की चीज़े खरीदने से कतरा रहे हैं. खाने के लिए हरी मिर्च के दाम तो मानो आसमान छू रहे हैं. बता दें श्रीलंका में हरी मिर्च की कीमत इस वक़्त 700-800 रूपए पर किलो चल रही है. इसके अलावा बाकी सब्जियों के दाम भी आसमान छू रहे हैं. तो आखिर ऐसा क्या हुआ जो श्रीलंका में ऐसी मुसीबत आन पड़ी. तो आइये जानते हैं.

बता दें श्रीलंका की अवादी करीब 2.2 करोड़ है और इस देश के विदेशी मुद्रा भंडार में 1.6 मिलियन की गिरावट नवम्बर में देखी गई थी. इस वजह से वहां की सरकार को बाहर से आने वाली बहुत सी जरूरी चीज़ों पर बैन लगाने पर मजबूर जो गई है जिसके चलते रोज़ इस्तेमाल होने वाली चीज़ों में एक भारी उछाल देखने को मिली है.

तो अब आपको कुछ चीज़ों की कीमतों को बताते हैं. श्रीलंका में इस वक़्त बैगन 160 रूपए किलो, करेला 160 रूपए किलो, भिंडी 200 रूपए किलो और बीन्स 350 रूपए किलो बिक रही है. अब इन कीमतों को देखकर और सुनकर करे तो क्या करें? वहां का इंसान मजबूर है. इस वक़्त श्रीलंका एक बड़े क़र्ज़ के नीचे दबा हुआ है.

प्यार के जाल में फंसाकर महिला का किया सौदा, रोजाना 20 लोगों ने किया बलात्कार

0

प्यार….कहने को यह एक खुशनुमा एहसास है। कई लोगों के लिए प्यार जिंदगी का वो तोहफा होता जिसे वे सबसे चाहते चाहते हैं लेकिन कुछ लोग इसी प्यार की आड़ में ऐसी घिनौनी हरकत कर जाते हैं जिसके बारे में बताने में भी शर्म आती है। आज हम आपको एक ऐसी लड़की के विषय में बताने जा रहे हैं जिसके साथ उसके बॉयफ्रेंड ने ही इतना बुरा सुलुक किया जिसके विषय में कभी कोई सोंच भी नहीं सकता।

जिस्मफरोशी के धंधे के विषय में तो आपने सुना ही होगा। इस व्यापार में लड़कियों को जोर-जबरदस्ती से धकेला जाता है उनसे गंदे काम करवाए जाते हैं और काली कमाई की जाती है। आज जो मामला हम आपको बताने जा रहे हैं वो भी इसी से जुड़ा हुआ है। दरअसल, ब्रिटेन की एक महिला ने मरने से पहले अपनी आपबीती सभी को सुनाई थी। उसने बताया कि कैसे एक लड़के ने उसको प्यार के जाल में फंसाया फिर उसके साथ शारीरिक संबंध बनाए और फिर यहां लाकर बेंच दिया।

महिला ने बताया कि उसकी मुलाकात एक लड़के से रोमानिया में हुई थी। दोनों की अच्छी दोस्ती हुई और फिर वे एक-दूसरे प्यार करने लगे। कुछ समय बाद वह लड़का उस महिला को लेकर यूके आ गया। यहां आकर उसने उस लड़की को किसी के हाथों बेच दिया। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, सौदा होने के बाद महिला को एक फ्लैट में बंद करके रखा गया था। वहां पहले से ही दो लड़कियां मौजूद थीं जिन्हें भी इसी तरह से लाया गया था। यहां उनके साथ बुरा बर्ताव होता था। बुरी तरह से मारा-पीटा जाता था।

इतना ही नहीं तकरीबन 20 लोग रोज़ उनका बलात्कार करते थे। मना करने पर उनके साथ ज्यादती होती थी। गौरतलब है, महिला ने आपबीती सुनाते हुए बताया था कि वहां खुलकर सांस लेने पर भी पाबंदी थी। उन्हें कहीं आने-जाने नहीं दिया जाता था। उन्हें नशे के इंजैक्शन दिये जाते थे जिससे कि वे सारा टाइम बेहोश रह सकें।

शादी के कार्ड में दूल्हे ने लिखवाया कुछ ऐसा, हर किसी की आंखें फटी रह गईं

0

केंद्र की मोदी सरकार द्वारा लाए गए तीनों कृषि कानूनों के विरोध में दिल्ली के सभी बॉर्डर्स पर एक साल से अधिक समय तक किसानों ने प्रदर्शन किया था। जिसके बाद प्रधानमंत्री मोदी ने दिसंबर के माह में किसानों से माफी मांगते हुए तीनों कृषि कानूनों को रद्द करने का ऐलान किया था। उनकी इस घोषणा के बाद पूरे देश के किसानों के बीच खुशी की लहर दौड़ गई थी। हालांकि, भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत ने ऐलान किया था कि जब तक सरकार एमएसपी की गारंटी नहीं देगी तब तक हम विरोध करते रहेंगे।

बता दें, किसानों के समर्थन में अब एक दूल्हे ने कुछ ऐसा करके दिखाया है जिसे देखने वाला हर शख्स सदके में पड़ गया। दरअसल, हरियाणा के भिवानी जिले के निवासी प्रदीप कालीरामणा की शादी 9 फरवरी को होने जा रही है। इसके लिए उन्होंने आमंत्रण पत्र छपवाएं हैं। इन कार्ड पर उन्होंने कुछ ऐसा लिखवाया है जिसे देखकर उनके सभी रिश्तेदार चौंक गए।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, प्रदीप ने अपनी शादी के कार्ड पर लिखवाया है कि ‘जंग अभी जारी है, एमएसपी की बारी है’। इसके अलावा उन्होंने शादी के कार्ड पर एक ट्रैक्टर का चित्र और ‘नो फार्मर्स, नो फूड’ को दर्शाने वाला एक चिन्ह भी छपवाया है।

गौरतलब है, इस विषय में बात करते हुए प्रदीप ने मीडिया कर्मियों से कहा कि ‘मैं अपनी शादी के कार्ड के माध्यम से यह संदेश देना चाहता हूं कि किसानों के विरोध की जीत अभी पूरी नहीं हुई है। किसानों की जीत तभी घोषित की जाएगी जब केंद्र सरकार गारंटी देने वाले एमएसपी अधिनियम के तहत एक कानून किसानों को लिखित में देगी। एमएसपी पर कानून के बिना, किसानों के पास कुछ भी नहीं है और किसानों की शहादत और उनके बलिदान भी तभी पूरे होंगे जब एमएसपी पर कानूनी गारंटी होगी।‘

रंक को भी राजा बना देते हैं ‘गुड़ के ये चमत्कारी टोटके’, आप भी जानिए

0

सेहत के लिए गुड़ बड़ा लाभकारी बताया जाता है। कई लोग चीनी की जगह गुड़ का उपयोग करते हैं। चिकित्सक भी शक्कर की बजाय गुड़ खाने की सलाह देते हैं। ये तो हुई हेल्थ की बात लेकिन क्या आपको पता है कि गुड़ का इस्तेमाल टोटके के रुप में भी किया जाता है। इसका उपयोग जीवन में खुशियां लाने के लिए किया जाता है। इससे आपके जीवन से जुड़ी हर एक समस्या का अंत हो जाता है।
आइये जानते हैं गुड़ के चमत्कारी फायदे।

आर्थिक स्थिति में सुधार

शास्त्रों के मुताबिक, जिन व्यक्तियों के जीवन में आर्थिक तंगी चल रही होती है उन लोगों को गुड़ का टोटका करना चाहिए। इस टोटके के लिए आपको लाल कपड़े में एक छोटा सा गुड़ का टुकड़ा और एक का सिक्का माता लक्ष्मी के सामने रख देना चाहिए। इस पोटली की पूजा करें और फिर इसे अपनी तिजोरी या अलमारी में रख दें। कुछ दिनों बाद आप पाएंगे कि आपकी आर्थिक स्थिति में काफी सुधार होगा।

कर्ज से मिलेगी मुक्ति

जिन लोगों पर अधिक कर्ज हैं वो इस टोटके को करने से कर्ज के बोझ से उबर सकते हैं। इसके लिए आपको मंगलवार के दिन गुड़ की मिठाई बनाकर उसे भगवान हनुमान के आगे भोग लगाना चाहिए। इससे आपके सारे कर्ज धीरे-धीरे चुकते जाएंगे।

पारिवारिक कलह से मिलेगी मुक्ति

अगर आपके परिवार में अक्सर झगड़े होते हैं, एक-दूसरे की बनती नहीं है। इससे मुक्ति पाने के लिए आपको एक छोटा सा उपाय करना होगा। इसके लिए सवा किलो गुड़ लेकर उसे किसी खाली जमीन में गाड़ दें, ध्यान रहे कि ऐसा करते वक्त कोई आपको देखे नहीं। इस उपाय को करने से आपके घर में सुख शांति आएगी और आप सुखी जीवन व्यतीत कर पाएंगे।

मनचाहे जीवनसाथी के लिए

कई बार कुछ लोग जिस व्यक्ति से शादी करना चाहते हैं उससे उसके लिए या तो उनके घर वाले नहीं तैयार होते या फिर कुछ और समस्या बीच में आ जाती है। ऐसी परिस्थिति में आपको एक उपाय करना चाहिए। गुरुवार के दिन गाय को गुड़ और चना खिलाएं। इसके अलावा गुरुवार के दिन आटा और गुड़ मिलाकर पेड़ा बना लें, उसमें हल्दी छिड़क दें। अब उस पेड़े को गाय को खिला दें। इससे आपरी शादी में आने वाली सभी बाधाएं जड़ से खत्म हो जीएंगी।

सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव के सामने महिला ने की आत्महत्या की कोशिश, सपा नेता पर लगाए गंभीर आरोप

0

सोमवार को समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की गाड़ी के आगे एक महिला ने आत्मदाह का प्रयास किया। उसका आरोप है कि उन्नाव के सपा नेता राजोल सिंह ने उसकी बेटी को पिछले 2 महीनों से बंधक बनाकर रखा है। बता दें, सोमवार को अखिलेश यादव अपने काफिले के साथ पार्टी कार्यालय से निकल ही रहे थे कि बाहर खड़ी समर्थकों की भीड़ में से एक महिला ने आत्मदाह की कोशिश की। बताया जा रहा है कि इस दौरान सपा मुखिया ने भी उसे ऐसा करते हुए देखा लेकिन अनदेखा करके चले गए। तबी पास खड़े पुलिस वालों ने उस महिला को घसीटकर सपा सुप्रीमो के काफिले से दूर कर दिया।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, महिला ने आरोप लगाया है कि उन्नाव में एक सपा नेता ने उसकी बेटी को पिछे 2 महीनों से बंधक बनाकर रखा है। इस नेता का नाम राजोल सिंह है। महिला का कहना है कि उसने इस बात की शिकायत थाने से लेकर पुलिस अधीक्षक तक से की लेकिन नेता की राजनीतिक पहुंच के चलते कोई मामले की सुनवाई के लिए तैयार नहीं है।

उसने बताया कि आज वह सपा कार्यालय के बाहर अखिलेश यादव से मदद मांगने आई थी लेकिन किसी ने उसे मिलने ही नहीं दिया। जिसके बाद थक हारकर उस महिला ने आत्मदाह का प्रयास किया। गौरतलब है, एसीपी हजरतगंज अखिलेश सिंह ने बताया की मामले की जांच सीओ सिटी उन्नाव द्वारा की जा रही है। उधर, महिला का आरोप है कि वह सीओ सिटी से कई दफा मुलाकात कर चुकी है लेकिन अभी तक कोई कार्रवाई नहीं हुई है।

मालूम हो, इससे पहले भी एक नेता ने लखनऊ स्थित पार्टी कार्यालय के बाहर आत्मदाह का प्रयास किया था। इस दौरान पता चला था कि सपा नेता आगामी विधानसभा चुनावों में टिकट कटने की वजह से दुखी था।

कोरोना को लेकर WHO की चेतावनी, कहा- ‘ओमिक्रॉन आखिरी वेरिएंट नहीं’

0

पिछले दो सालों से कोरोना महामारी ने दुनिया की नाक में दम करके रखा है। इस आपदा के वक्त ना जाने कितने परिवार बिखर गए, ना जाने कितने बच्चे अनाथ हो गए। ऐसे में राहत की बात यह है कि कोरोना की वैक्सीन आ गई है, हालांकि यह कितनी कारगर है यह चर्चा का विषय है लेकिन इस पर किसी और दिन बात करेंगे।

आज हम आपको विश्व स्वास्थ्य संगठन द्वारा कोरोना को लेकर दी गई चेतावनी के विषय में बताने जा रहे हैं। संगठन का कहना है ओमिक्रॉन कोरोना का आखिरी वेरिएंट नहीं है। बता दें, पिछली बार की मुकाबले कई देशों में कोरोना की तीसरी लहर उतनी तबाही नहीं मचाई है जितनी की पहले और दूसरी लहर के दौरान थी। कयास लगाए जा रहे थे कि ओमिक्रॉन कोरोना का आखिरी वेरिएंट होगा लेकिन डब्लूएचओ द्वारा जारी किए गए बयान ने चिताएं बढ़ा दी हैं।

विश्व स्वास्थ्य संगठन के प्रमुख टेड्रोस अदनोम घेब्रेयियस ने कोरोना से उत्पन्न हुई मौजूदा परिस्थितियों पर चर्चा के दौरान कहा कि कोरोना वायरस के और स्वरूपों के आने के लिए आदर्श स्थिति बनी हुई है। यह मानना कि ओमिक्रोन आखिरी स्वरूप है या हम महामारी के अंतिम दौर में हैं, यह एक खतरनाक सोच है।

बता दें, डब्लूएचओ के कार्यकारी बोर्ड की बैठक में घेब्रेयियस ने कहा कि, ‘‘महामारी कैसा रूप धारण करेगी और कैसे विकट चरण को खत्म किया जाए इसको लेकर अलग-अलग परिदृश्य हैं। लेकिन यह मानना खतरनाक होगा कि ओमिक्रॉन, वायरस का आखिरी स्वरूप होगा या महामारी खत्म होने को है। इसके विपरीत, वैश्विक स्तर पर वायरस के और स्वरूप आने के लिए आदर्श अवस्था बनी हुई है।”

गौरतलब है, इस बैठक में इस बात पर भी चर्चा हुई कि आखिर किस तरीके से इस महामारी से निजात पाया जा सकता है। इसपर घेब्रेयियस ने कहा कि “हम कोविड-19 महामारी को दिए गए वैश्विक स्वास्थ्य आपातकाल के दर्जे को खत्म कर सकते हैं और यह हम इसी साल कर सकते हैं। यह डब्ल्यूएचओ के लक्ष्यों को, जैसे प्रत्येक देश में साल के मध्य तक 70 प्रतिशत आबादी का टीकाकरण, कोविड-19 से अधिक खतरे वाले लोगों पर ध्यान केंद्रित कर, जांच में सुधार कर और वायरस और उसके स्वरूप पर नजर रखने के लिए आनुवंशिकी अनुक्रमण की दर बढ़ाने को प्राप्त करके कर सकते हैं।‘’

बैलगाड़ी से बारात लेकर पहुंचा दूल्हा, दुल्हन के उड़े होश, वीडियो वायरल

0

भारत में शादियों को लेकर लोगों के बीच बड़ा उत्साह देखने को मिलता है। नए-नए कपड़े, अच्छा भोजन और नाच-गाना लोगों को काफी आकर्षित करता है। यही कारण है कि भारत की हर शादी अपने में एक इतिहास होती है। वैसे शादियों में जिसपर सबकी नज़र होती है वो हैं दूल्हा-दुल्हन। सभी की आखें इन दोनों को देख रही होती हैं। आज हम आपको एक ऐसी ही शादी के विषय में बताने जा रहे हैं जिसमें दूल्हे ने कुछ ऐसा कर दिखाया जिसे देखते ही दुल्हन के होश उड़ गए और लोगों का मुंह खुला का खुला रह गया।

जी हां, इन दिनों एक वीडियो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है। इस वीडियो में एक दूल्हा बैलगाड़ी पर सवार होकर अपनी बारात लेकर दुल्हन के दरवाजे पहुंचता है। जिसे देखकर दुल्हन के होश उड़ जाते हैं जबकि बाकी लोग देखते ही रह जाते हैं। मालूम हो, पुराने ज़माने में सफर तय करने का एकमात्र साधन बैलगाड़ी ही हुआ करती थी। जैसे-जैसे समय बीतता गया इसकी जगह गाड़ियों ने ले ली। अब कोई भी दूल्हा बैलगाड़ी पर बारात ले जाने में अपनी तौहीन समझता है। लेकिन इन महाशय ने अपने पूर्वजों की परंपरा को बरकरार रखा और बैलगाड़ी पर सवार होकर पहुंच गए अपनी दुल्हन को लेने।

गौरतलब है, दूल्हे को इस रुप में देखकर उसकी दुल्हन समेत अन्य लोग भी चौंक गए। वहीं, सोशल मीडिया पर बारात ले जाने का यह तरीका लोगों को काफी दिलचस्प लग रहा है। कई लोगों ने इस वीडियो को साझा करते हुए कमेंट किया की बहुत से लोग अपनी शादी को यादगार बनाने के लिए करोंड़ो रुपये खर्च कर देते हैं लेकिन इन्होंने तो कम पैसों में ही अपनी शादी यादगार बना ली।

 

View this post on Instagram

 

A post shared by Ayush Vora (@_i_am__ayush.__)

बता दें, इससे पहले भी शादियों के कई वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो चुके हैं जिनमें दूल्हे अपनी शादी को यादगार बनाने के लिए हेल्कॉप्टर से बारात लेकर पहुंचे हैं। जबकि एक वीडियो में तो दूल्हा अपनी पत्नी को जेसीबी मशीन से ही लेने पहुंच गया।